सोमवार, 2 अगस्त 2010

बनो

बनो
बींदराजा जद सांबेळा अर तोरण पर पधारे जद बनड़ी रे घर री अर गांव गुवाड़ी री  सगळी जणियां उंची मेड़ी मातै चढ र घणे चाव सूं ओ  बनो गाया करे बींद ने अणुंतो फुटरो अर बनड़ी रे जोड़ी रो बतावतां जस देवतां।

बना सीवां थे आइजो मलकन्ता                                                                                                                     
सीवांयो सरायो बींद सोजतिया
                      बींद मेड़तिया
बनी रा जोड़ी रो राजवी!!
बना हालता री मचकै मोजड़ी
बना हंसता रा दिखै दांत दाड़मिया
                             होठ रेशमिया
बनी रे जोड़ी रो राजवी!!

बना सरवर थे आइजो मलकन्ता
पिणहारियां  सरयो बींद मेड़तिया
                              बींद सोजतिया
बनी रे जोड़ी रो राजवी!!

बना चौवटे थे आइजो मलकन्ता
बना चौरासी सरायो बींद मेड़तिया
                      बींद सोजतिया
 बनी रे जोड़ी रो राजवी!!

बना तोरण थे आइजो मलकन्ता
बना सहेलियां सरायो बींद सोजतिया
                  बींद मेड़तिया
बनी रे जोड़ी रो राजवी!!

 बना माया थे आइजो मलकन्ता
बना जोशीजी सरायो बींद सोजतिया
                   बींद मेड़तिया

बना  चंवरियां थे आइजो मलकन्ता
बना कडु़म्बे सरायो बींद सोजतिया
                   बींद मेड़तिया
बनी रे जोड़ी रो राजवी!!
बना हालता री मचकै मोजड़ी
बना हंसता रा दिखै दांत दाड़मिया
                   होठ रेशमिया
बनी रे जोड़ी रो राजवी !!!


बनो         बींद अर ब्याव में गाइजण वाळा एक तरै रा गीत।
                राजस्थानी शादियों में गाया जाने वाला गीत का एक प्रकार।
सीवां        सांबेळा जठै मंाडियां  जांनियां रो सुआगत करै।
                 बराती घरातियों के मिलनी की जगह।
मुलकंता     मुस्करावतां
राजवी       राजकंवर
मोजड़ी      बींदोली जूतियां
माया        रंग सूं मांडियोड़ा देवी देवता जठै बींद बींदणी रा छेड़ा छेड़ी जोड़िजै।
सरवर         सरोवर                                                                                      

2 टिप्‍पणियां:

  1. जमानो हुईग्यो सा,आ गीत सुण्यां।

    इने रिकार्ड करके पॉडकास्ट लगाओ तो चोखो आनंद आवे।

    उत्तर देंहटाएं